Skip to content
Home » AgniKarma Adhayay

AgniKarma Adhayay

0%
1 votes, 5 avg
48

12. AgniKarma Adhayay

1 / 76

ऊष्ण वायु से दग्ध होने पर कौन सी चिकित्सा करनी चाहिये
What treatment should be done in a dagdha with ushna vāyu

2 / 76

सिरा स्नायु सन्धि व अस्थि प्रदेश पर अग्निकर्म हेतु किसका प्रयोग निर्दिष्ट है ?
What should be used for agnikarma on sirā, snāyu, sandhi and asthi

3 / 76

कपोत वर्णता is sign of which dagdha
Kapota Varna is the sign of which burn

4 / 76

स्नेह द्वारा अग्निकर्म योग्य स्थान हैं
Agni karma yogya sthāna by Sneha

5 / 76

रुक्षारुणकर्कशस्थिरता निम्न में से किसका लक्षण है ?-
"Rukshārunakarkashasthiratā" is the symptom of which of the following ?

6 / 76

अल्पश्वयथुर्वेदना शुष्कसंकुचित व्रणता किस दग्ध का लक्षण है ?
"Alpashvayathurvedanā Shushkasankuchita Vranatā" is the symptom of which Dagdha ?

7 / 76

सुश्रुतानुसार सर्वप्रथम धूमोपहत को क्या कराना चाहिए
According to Sushruta, what should be first line of treatment for dhūmopahata

8 / 76

धूमोपहत का चिकित्सा क्रम है -
Chikitsā krama of Dhūmopahata is

9 / 76

निम्न में से किस ऋतु में अग्नि कर्म नही करना चाहिए
Agnikarma should not be done in which season

10 / 76

सुश्रुतानुसार अश्मरी,अर्श,भगन्दर,मुखरोग में अग्निकर्म करते हैं
Agni karma in arsha,ashmari, bhagandara and mukharoga should be done according to Sushruta

11 / 76

सुश्रुत मतानुसार "दहन कर्म " के प्रकार हैं :
Types of “dahana karma” according to Sushruta

12 / 76

सिरास्नायुगत व्याधियों में दहन कर्म किसके द्वारा करवाया जाता है ?
Dahana karma in Sirāsnāyugata diseases is done by which of the following ?

13 / 76

अग्निदग्ध से सर्वप्रथम कौनसी धातु प्रदुषित होती है ?
Which dhātu gets pradushita first due to agnidagdha

14 / 76

त्वक् विवर्णता लक्षण किस दग्ध का है
Tvaka Vivarnatā is the symptom of which dagdha

15 / 76

सम्यक दग्ध में कौनसी चिकित्सा करनी चाहिए ?
Which treatment is done in Samyak Dagdha ?

16 / 76

सुश्रुत के अनुसार सिरास्नायुदग्ध में किस तरह की व्रणता होती है
According to Sushruta what type of wound is found in sirasnāyudagdha

17 / 76

स्रावसन्निरोध किस दग्ध का लक्षण है
Srāvasannirodha is the symptom of which dagdha

18 / 76

उष्ण वात व आतप से दग्ध होने पर चिकित्सा है
What treatment is done for dagdha due to ushna vāta and ātapa

19 / 76

कपोतवर्णता किस दग्ध का लक्षण है
Kapotavarnatā is the symptom of which dagdha

20 / 76

किस रोग में अभुक्तवत शस्त्र कर्म करना चाहिए
In which disease shastra karma should be performed empty stomach

21 / 76

मांसावलम्बनम् गात्रविश्लेष् किस दग्ध का लक्षण है
“Māmsavalambana gātravishalesha is the symptom of which dagdha

22 / 76

किस रोग में अग्निकर्म भ्रू , ललाट एवं शंखप्रदेश में करते है ?
In which disease agnikarma is done on Bhru, lalāta and shamkhapradesh

23 / 76

त्वक में दहन के लिए उपकरण है
What instrument is used for tvaka dahana

24 / 76

मांसवलम्बनम् गात्रविश्लेष: किसका लक्षण है
Māmsavalambanam gātravishleshah is symptom of

25 / 76

अति तेज से दग्ध रोगी में क्या उपचार करना चाहिए
What should be the treatment in dagdha patient cause by severe lightening ?

26 / 76

अग्नि कर्म से पूर्व कौन सा अन्न सेवन का विधान है
What food should be taken by patient before agni karma

27 / 76

व्रण कपोत वर्ण का होना किस दग्ध का लक्षण है ?
Kapota colour vrana is characteristic of which Dagdha ?

28 / 76

अग्नि कर्म के अयोग्य है
Contraindication of agni karma

29 / 76

सुश्रुत के अनुसार सन्ध्यस्थि दग्ध में व्रणता किस तरह की होती है ?
According to Sushruta, how is the vrana in sandhyasthi vrana

30 / 76

स्रावसन्निरोध किस दग्ध का लक्षण है ?
"Strāvasannirodha" is the symptom of which dagdha ?

31 / 76

किस दग्ध में शीतल जल का प्रयोग नही करना चाहिए
In which dagdha cold water should not be used

32 / 76

सुश्रुतानुसार मुखरोग में ....... अग्नि कर्म करना चाहिए
According to Sushruta, In Mukharoga..................agnikarma should be done

33 / 76

तीव्र स्फोट की उत्तपति किस दग्ध का लक्षण है
Tivra sphota utapatti is symptom of which dagdha

34 / 76

धूमोपहत की चिकित्सार्थ प्रयुक्त वमन कर्म में कौनसे रसात्मक द्रव्यों का सेवन निर्दिष्ट है ?
Which rasa dravya are advised for the treatment by Vamana for Dhūmopahata

35 / 76

सिरा,सन्धि के दहन के लिए प्रयुक्त पदार्थ है
What among the following is used for sira sandhi dahana

36 / 76

शीत,वर्षा,अनिल दग्ध की चिकित्सा है
Treatment of shīta, varshā, anila dagdha is

37 / 76

अतिदग्ध की आद्य चिकित्सा है
First treatment for atidagdha

38 / 76

व्रणं गुडूचीपत्रैर्वा छादयेदथवैदकै: किस दग्ध की चिकित्सा के सन्दर्भ में कहा गया है ?
“Vranam guduchiPatrairavā chādyedathavaidakaih” has been said in context of treatment of which dagdha

39 / 76

सुश्रुतानुसार मांस दहन किससे किया जाता है -
According to Sushruta, Māmsa Dahana is done by

40 / 76

जाम्बवौष्ठ का प्रयोग किस स्थान के दहन के लिए किया जाता है
Jāmbavaoshtha is used for dahana of which sthāna

41 / 76

इंद्रवज्रादिदग्ध में कौन सी चिकित्सा करनी चाहिए
What treatment should be done in Indravajrādidagdha

42 / 76

अग्निदग्ध के प्रकार
Types of Agnidagdha

43 / 76

कपोतवर्ण अग्निदघ्ध व्रण किस अवस्था में होता है -
Kapota varna agnidagdha vrana occurs in which situation

44 / 76

कौन से अग्निदग्ध में स्फोट उत्पन्न होते हैं
Sphota appears in which agni dagdha

45 / 76

सुश्रुत अनुसार अग्निकर्म पूर्व कैसा अन्न खिलाना चाहिए
What type of food should be taken before agni karma according to Sushruta

46 / 76

निम्न में से अतिदग्ध की चिकित्सा होनी चाहिए -
Treatment of atidagdha among the following is

47 / 76

अग्निकर्म क्षारकर्म की अपेक्षा श्रेष्ठ है , क्योकि .........
Agnikarma is better than kshārakarma because

48 / 76

कृष्णोन्नत व्रणता is sign of
Krishnonnata vranatā is the sign of
ed

49 / 76

निम्न में से दहन का प्रकार नही है
Which of the following is not a type of dahana

50 / 76

रूक्षारूणकर्कशस्थिरता निम्न में से किसका लक्षण है ?
“RukshĀrunaKarkashasthiratā” is the symptom iof

51 / 76

स्फोट,तोद,तीव्र दाह किसका लक्षण है
Sphota, toda and tivra dāha are that symptoms of

52 / 76

अग्निप्रतपनं कार्य्यमुष्णं तथौषधम् किस दग्ध की चिकित्सा है ?
“AgniPratapnam kāryamushanam tathaushadham”is the treatment of which dagdha

53 / 76

. 'तालफलवर्ण सम व्रण'कौन से दग्ध का लक्षण है
“TālaPhalaVarna Sama Vrana” is symptom of which dagdha

54 / 76

कृष्ण उन्नत व्रण किस स्थानगत दग्ध की पहचान है ?
Krushna unnata vrana is the identification of which sthānagata vrana ?

55 / 76

निम्न में से किस दग्ध की चिकित्सा पित्तज विसर्प की तरह करनी चाहिए ?
Which of the following dagdha should be treated pittaja visarpa

56 / 76

शब्द प्रादुर्भाव किस दग्ध का लक्षण है ?
"Shabda Prādurbhāva" is the symptom of which dagdha ?

57 / 76

त्वक् रोग में अग्निकर्म किया जाता है -
In twak roga, Agnikarma is done by -

58 / 76

सुश्रुतानुसार दहन के प्रकार हैं
Types of dahana according to Sushruta

59 / 76

धूमोपहत की चिकित्सार्थ प्रयुक्त कवल में कौनसे रस प्रधान द्रव्यों के स्वरस या क्वाथ का प्रयोग निर्दिष्ट है ?
Which rasa pradhāna svarasa or kvātha for Kavala are used in chikitsā of Dhumopahata

60 / 76

अस्थि मे अग्निकर्म निम्न में से किससे करते है ?
Agnikarma in asthi is done with which of the following ?

61 / 76

सुश्रुत के अनुसार सन्ध्यस्थि दग्ध में किस तरह की व्रणता होती है
What types of wound is formed in Sandhyasthi dagdha

62 / 76

अजाशकृत is used for agnikarma of
Ajāsakṛita is used for agani kaṛma of-

63 / 76

सुश्रुत अनुसार मांस गत रोगों में दहन किससे किया जाता है
According to Sushruta, dahana in māmsagata roga should be done with

64 / 76

शहद ,गुड़ से दहन योग्य स्थान है
Dahana of which of the following is done with honey and jaggery

65 / 76

त्वक दहन के लिए प्रयोज्य पदार्थ है
What should be used for tvaka dahana

66 / 76

यदि दग्ध स्थान में निरन्तर दाह होता हो तो किसके समान चिकित्सा करनी चाहिए
If there is continuous burning in dagdha sthāna then treatment should be done like

67 / 76

सुश्रुत के अनुसार त्वक दग्ध का लक्षण क्या है
What is the symptom of tvaka dagdha according to Sushruta

68 / 76

वस्त्र से ढककर रोमकूप में दाह किस व्याधि में करना चाहिए
Dāha in romakūpa by covering it with cloth is done in which disease

69 / 76

शब्दप्रादुर्भाव किस दग्ध का लक्षण है
“Shabdprādurbhāva” is symptom of which dagdha

70 / 76

अल्पश्वयथुवेदनाशुष्कसङ्कुचितव्रणता किस दग्ध का लक्षण है
“AlpaShvayathuVedanāShushkaSamkuchitaVranatā” is symptom of which dagdha

71 / 76

निम्न में कौन दहन कर्म नहीं है।
Which of the following is not dahana karma

72 / 76

दुर्दग्ध मे किस प्रकार का उपचार करना चाहिए
What type of treatment should be done in durdagdha

73 / 76

सुश्रुत संहिता में रोग आश्रय भेद से अग्निकर्म उल्लेखित (अन्य संप्रदाय अनुसार) है -
In Sushruta samhitā Agnikarma on the basis of Roga Āshraya Bheda(according to anya sampradāy) is -

74 / 76

सुश्रुत ने दहन आकृति कितनी बताई है
Number of dahana ākriti by Sushruta

75 / 76

अग्निकर्म निषिद्ध है
Agnikarma is contraindicated in

76 / 76

किस ऋतु में अग्निकर्म नही करना चाहिए
Agnikarma should not be done in which season

Your score is

The average score is 82%

0%

Exit

Please click the stars to rate the quiz

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *