Skip to content
Home » Agropahariya Adhayay

Agropahariya Adhayay

0%
0 votes, 0 avg
66

5. Agropahariya Adhayay

1 / 59

सुश्रुत के अनुसार शस्त्र कर्म के प्रकार
Types of shastra karma according to

2 / 59

आयतश्च: विशालश्च: सुविभक्तो निराश्रय:' किसके सम्बन्ध में है
"Āyatashcha Vishālashcha Suvibhakto Nirāshrayah" is related to

3 / 59

व्रण में एक भेदन से अगर पूय की शुद्धि पूर्णरूपेण ना हो तो दूसरा भेदन किस स्थान पर किया जाना चाहिए ?
If there is no complete purification of pus from one bhedana of Vrana, then where should the second bhedana be performed?

4 / 59

सुश्रुत अनुसार, निम्नोक्त किस व्याधि में रोगी को बिना कुछ खिलाए हुए शस्त्र कर्म किया जाता है ? [A] भगन्दर [B] अर्श [C] विद्रधि [D] मुखरोग [E] काण्ड-भग्न
As per Sushruta, Patient is kept nil orally before surgery in which of the following disease ? [A] Bhagandara [B] Arsha [C] Vidradhi [D] Mukharoga [E] Kānda bhagna

5 / 59

श्लोक पूर्ण करें - आयतश्च विशालश्च सुविभक्तो .....।
Complete the Shlok - " Aayatashch vishalshch suvibhakto .........."

6 / 59

किस व्याधि में अभुक्तवत शस्त्र कर्म किया जाता है
In.which disease shastra karma can be done empty stomach

7 / 59

भ्रू, ललाट, गण्डस्थल, कक्षा, कुक्षि तथा वंक्षण में किस प्रकार छेदन किया जाता है ?
Which type of Chhedana is done on Bhrū, Lalāta, Kakshā, Kukshi and Vankshana ?

8 / 59

अर्धचंद्राकार Chedan is done at
Aṛdha chamdṛākāra chēdana is mentioned at-
ed

9 / 59

व्रण के रक्षा मंत्र मे सोम किसकी रक्षा करता है
What does Soma protect in the Raksha Mantra of Vrana

10 / 59

व्रण के रक्षा मंत्र मे पर्जन्य किसकी रक्षा करती है
Whom does Parjanya protects in the Raksha Mantra of Vrana

11 / 59

आचार्य सुश्रुत के अनुसार किस स्थान पर तिर्यक छेदन किया जाना चाहिए ?
According to Ācharyā Sushruta, Tiryaka Chhedana should be done on which region ?

12 / 59

अयोग्य छेदन प्रकार करने से कौनसा उपद्रव उत्पन्न होता है ?
Updṛava obtained due to ayogŷa chēdana ?

13 / 59

निम्न मे से प्रशस्त व्रण का गुण नहीं है ?
Which of the following is not a guna of vran ?

14 / 59

शस्त्र किस दिशा में चलाते है
In which direction Shastra should be moved?

15 / 59

किस प्रकार का व्रण चिकित्सा कर्म में श्रेष्ठ नही होता है ?
Which type of vrana is not considered as Shreshtha in Chikitsa karma ?

16 / 59

निम्न में से किस व्याधि में अभुक्तवत शस्त्र कर्म निर्दिष्ट नहीं है
Which is not one of the indications of अभुक्तवत शस्त्रकर्म

17 / 59

शस्त्र कर्म रोमों की किस दिशा में करना चाहिए
Shastra karma should be done in which direction of hair

18 / 59

दन्तवेष्टक में कौन सा छेदन करना चाहिए ?
Which type of chhedan should be done in dantaveshtak ?

19 / 59

सुश्रुत अनुसार शस्त्रकर्म में सम्मिलित नहीं है -
According to Sushruta, following is NOT included in Shastrakarma -

20 / 59

इनमे से किस रोग की शल्य चिकित्सा के लिए शल्य क्रिया के पहले उपवास पर नहीं रखते हैं।
For surgery of which of the following disease the patient does not have to fast before undergoing shalya chikitsā

21 / 59

अभुक्तवत शस्त्र कर्म किया जाता है
Abhuktavata shastrakarma is done in

22 / 59

मानव शरीर के किस भाग में तिर्यक् छेदन नहीं करते है ?
In which part of human body , Tiryak chhedan is not done ?

23 / 59

शरद,ग्रीष्म और वर्षा ऋतु में व्रण बन्धन किस दिन खोलना चाहिए
Bandage should be opened on which day in sharada, varsha and grīshma ritu

24 / 59

क्या पाटन कर्म अष्टविध शस्त्रकर्म में आता है ?
Does Pātana Karma comes under Shastrakarma ?

25 / 59

ओष्ठ पर छेदन होता है
Chedana on lips(oshtha) is in what shape

26 / 59

तीर्यग छेदन योग्य स्थान है
Tīryaga chedana yogya sthāna is

27 / 59

नीचे दो कथन दिये हुए हैं - कथन (1) हेमंत, शिशिर तथा वसंत ऋतू मे व्रण बंधन को तीसरे दिन खोलना चाहिए। कथन (2) अत्यायिक अवस्था में व्रण बंधन को कभी भी ( तुरंत) खोला जा सकता हैं। उपरोक्त कथनो के आधार पर सही विकल्प चुनिए।
Given below are two statements :- Statement (1) Bandage should be opened on third day in Hemanta, Shishira and Vasanta ritu. Statement (2) Bandage can be opened at any time at any time ( or at once ) in condition of Emergency. Choose the most appropriate answer from the options given below -

28 / 59

अभुक्तवत् शस्त्र कर्म करने योग्य कितनी व्याधिया है
How many are the diseases in.which Shastra Karma must be performed empty stomach

29 / 59

निम्न में से तिर्यग छेदन योग्य स्थल कौनसा/कौनसे हैं ?
Which of the following regions is/are indicated for tiryak chhedan ?

30 / 59

गुद व मेढ्र पर किस प्रकार का शस्त्रकर्म करना चाहिए ?
Which type of Shastrakarma should be done on Guda and Medhra ?

31 / 59

सुश्रुत के अनुसार शस्त्र कर्म करते हुए रोगी को किस दिशा में बिठाना चाहिए
According to Sushruta, In what direction patient is asked to sit while performing shastra karma

32 / 59

तिर्यग छेदन योग्य स्थल हैं
Tiryaga chedana yogya is

33 / 59

वसंत ऋतू में व्रण का पट्ट कब खोलेने का निर्देश हैं ?
During vasant ritu , bandage of vran is said to be opened on ?

34 / 59

ग्रीष्म ऋतू में व्रण की पट्टी कब खोलें
Bamdage should be removed after how many days in summer season

35 / 59

सुश्रुत मतानुसार, ओष्ठ व गण्ड पर कौनसा छेदन निर्दिष्ट है ?
According to Sushruta, which Chhedana is indicated for Oshtha and Ganda ?

36 / 59

अर्धचन्द्राकार छेदन किया जाता है
Ardh Chandrakāra chedana is done in

37 / 59

एषण शस्त्रकर्म किस आचार्य ने माना है ?
Eshana karma is accepted by which Āchārya

38 / 59

आचार्य सुश्रुत के अनुसार हेमन्त ऋतू में व्रण की पट्टी कब खोलनी चाहिए
How oftenly bandage should be opened in hemanta ritu according to āchārya Sushruta

39 / 59

सुश्रुतानुसार शस्त्र कर्म का प्रकार नहीं है ?
According to Sushrut, which of the following is not a type of Shastra karma ?

40 / 59

अभुक्तवत शस्त्रकर्म किस व्याधि में किया जाता है
In which disease shāstra karma is performed on empty stomach

41 / 59

निम्न में से प्राकृत व्रण का गुण नही है ?
Which of the following is not a quality of Prākruta Vrana ?

42 / 59

निम्न में से चिकित्सा के लिए श्रेष्ठ व्रण के लक्षण नही है
Which of the following is not shreshtha vrana lakshana to be treated

43 / 59

आचार्य सुश्रुत अनुसार कर्म के भेद हैं ?
Types of karma according to Acharya Sushrut ?

44 / 59

व्रण में भेदन से अगर पूय की शुद्धि पूर्ण रूप से ना हो तो दूसरा भेदन किस स्थान पर किया जाना चाहिए ?
If the Pus is not completely purified by piercing the ulcer, then at which place should the second piercing be done?

45 / 59

निम्न में से शल्यचिकित्सक का गुण नहीँ है
Which of the following is not a quality of shalya chikitsaka

46 / 59

व्रण के रक्षा मंत्र में मेघ किसकी रक्षा करता है
Whom does Megha protects in the Raksha Mantra of Vrana

47 / 59

सुश्रुतानुसार शस्त्र कर्म कितने प्रकार के होते हैं ?
According to Sushrut , how many types of Shastra karma are mentioned ?

48 / 59

निम्न में से किस व्याधि में अभुक्तवत शस्त्र कर्म करना चाहिए -
Which of the following disease is indicated for shastra karma on empty stomach -

49 / 59

यतो यतो व्रणं कुर्याद यथा दोषो न तिष्ठति | डल्हण के अनुसार यहाँ 'दोष' शब्द से क्या ग्रहण करना चाहिए ?
"Yato yato vranam kuryād yathā dosho na tisthati" according to Dalhana word "Dosha" in the above statement stands for

50 / 59

अभुक्तवत शस्त्र कर्म करना चाहिए
Empty stomach shastra karma should be done for

51 / 59

Type of Chedan used in ललाट
Chhedana type in lalāta (forehead)

52 / 59

किस ऋतु में दूसरे दिन व्रण की पट्टी खोलनी चाहिए
In which season bandage should be opened on second day

53 / 59

निम्न में से शल्य चिकित्सक का गुण नही है ? ( सुश्रुत )
Which of the following is not a quality of Shalya chikitsak ? ( Sushrut )

54 / 59

हस्त पाद में किस प्रकार का छेदन निर्दिष्ट है ?
Which type of chhedan is done in hasta paad region ?

55 / 59

आयतश्च विशालश्च सुविभक्तो निराश्रय:| प्राप्तकालकृतश्चापि - कौनसे व्रण का लक्षण है ?
Āyatashcha Vishālashcha Suvibhakto Nirāshrayah prāptakālakritāshchāpi" is characterised of which type of vrana

56 / 59

निम्न मे से व्रणधूपन द्रव्य नहीं है ?
Not a vranadhūpana dravya from the following is -

57 / 59

सुश्रुत के अनुसार किसी शस्त्र की चोट के कारण उत्पन्न हुई तीव्र वेदना शामक द्रव्य है
According to Sushruta, the pain caused by injury of any weapon(shastra) is pacified by which dravya

58 / 59

शिशिर ऋतु में कितने दिन के अन्तराल पर व्रण की पट्टी बदल देनी चाहिए ?
Bandage of vrana should be changed in the interval of how many days in Shishira season ?

59 / 59

व्रण के शोधन के पश्चात् किन द्रव्यों की वर्ति व्रण में रखी जानी चाहिए ?
After shodhana of vrana , varti of which dravyas should be kept in vrana ?

Your score is

The average score is 80%

0%

Exit

Please click the stars to rate the quiz

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *