Skip to content
Home » Charak Chikitsha Chapter 5 Gulma Chikitsha

Charak Chikitsha Chapter 5 Gulma Chikitsha

0%
0 votes, 0 avg
119

Charak Chikitsha Chapter 5 Gulma Chikitsha

1 / 100

मिश्रस्नेह का प्रयोग किस गुल्म की चिकित्सा में किया जाता है ?
Use of mishrasneha is done in the treatment of which gulma ?

2 / 100

गुल्म में स्वेदन क्या कार्य करता है ?
What is the action of svedana in gulma ?

3 / 100

त्रायमान घृत का प्रयोग किस गुल्म मे होता है
Trāyamāna ghrita is used in which gulma

4 / 100

शिशिर ज्वर किस गुल्म का लक्षण है
Shishira jvara is symptom of which gulma

5 / 100

रक्तज गुल्म में योनिविशोधनार्थ पर्युक्त है
What is advised in Raktaja gulma for yonivishodhana

6 / 100

गुरु कठिनसंस्थानो किस गुल्म का रूप है
"Guru kathinasamsthāno" symptom of which gulma

7 / 100

दन्ती हरीतकी का रोगाधिकार है -
What is the rogādhikāra of Dantī Harītakī ?

8 / 100

गूढ़मांसान्तराश्रय: किस गुल्म का रूप है
"Gūdhamāmsāntarāshyah" is the symptom of which gulma

9 / 100

दंती हरीतकी मे चित्रक का प्रमाण
Pramāna of chitraka in Dantī Harītakī

10 / 100

पुनः पुनः स्नेहपानं निरुहा: सानुवासना' किसकी चिकित्सा है
"Punah punah snehapānam niruhā sānuvāsanāh" is the treatment of

11 / 100

जीर्णेsभ्यधिकं प्रकोपं' किस गुल्म का लक्षण है
"Jīrneabhyādhikam prakopam" is the symptom of which gulma

12 / 100

मन:शरीराग्निबलापहारिणं किस गुल्म का लक्षण है ?
"Manah SharirĀgniBalĀphārinam" symptom of which gulma

13 / 100

पुनः पुनः स्नेहपानं निरुहा: सानुवासना' किसकी चिकित्सा है
"Punah punah snehapānam niruhā sānuvāsanāh" is the treatment of

14 / 100

हिंगुसौवर्चलाद्य घृत का किसके साथ सेवन से वात गुल्म का नाश होता है
Himgusauvarchalādhya ghrita along with which of the following cures the vātaja gulma

15 / 100

निम्न में से कौनसा गुल्म का आश्रय स्थान नहीं है ?
Which of the following is not an āshraya sthāna of gulma

16 / 100

निम्न मे से तैल पंचक का घटक नही है
Which of the following is not a content of taila panchaka

17 / 100

भोजन जीर्ण होने पर गुल्म के कौनसे प्रकार में वेदना बढ़ जाती है ?
In which type of gulma does the pain increases after the food is digested

18 / 100

दाहशूलार्तिसंक्षोभस्वप्नाशारतिज्वरै: की गुल्म का स्वरूप है
"DahaShūlArtiSamkshobhaSvapnaNāshĀratiJvarah" is svarūpa of which gulma

19 / 100

भल्लातक घृत किस गुल्म का नाश करता है
Bhallātaka ghrita cures which gulma

20 / 100

गुल्मनुत् परम् किस घृत के लिए है
"Gulmanuta parama" is in the context of which ghrita

21 / 100

चरक ने पित्तज गुल्म की कितनी अवस्थाएं बताई हैं
How many stages of Pittaja gulma did charaka describe?

22 / 100

महारुजं दाहपरीतं ...... शीघ्र विदाहि' किस गुल्मके लक्षण है
"Mahārujam dāhaparītam....... shīghra vidāhi" symptomsCharaka of which gulma

23 / 100

आचार्य चरक अनुसार कफज गुल्म की चिकित्सा है -
According to Charaka treatment of Kaphaja gulma is

24 / 100

गुल्म के स्थान है ?

25 / 100

उर्ध्वनाभीज गुल्म में कौन सी चिकित्सा की जाती है ?
What treatment is done in urdhavaNābhija gulma

26 / 100

संस्पर्शे वस्तिसंनिभे लक्षण है -
"Samsparshe bastisanibhe" is the symptom of -

27 / 100

कठिनोन्नतत्वं किस प्रकार के गुल्म का स्वरूप है
"Kathinonnatavam" is svarūpa of which gulma

28 / 100

तैलपञ्चक का घटक नही है
Which of the following is not a content of taila panchaka

29 / 100

यदि पित्तज गुल्म में ज्वर,दाह, अरुचि हो तो कौन सी चिकित्सा करनी चाहिए
What treatment should be done if there is Jvara, dāha, aruchi in pittaja gulma

30 / 100

पक्वाशय में आश्रित गुल्म में प्रशस्त होता है। चरक
Gulma āshrita in pakvāshayā is treated with

31 / 100

दंती हरीतकी द्वारा कितने प्रमाण में दोषो का निहरण होता है ?
In what dose does damti haritaki causes dosha nirharana

32 / 100

स्पर्शासह:' किस व्याधि का लक्षण है ?
"Sparshasaha" is the symptom of which disease ?

33 / 100

आश्वासन चिकित्सा किस गुल्म के लिए कही गयी है
Āshvāsana chikitsā is said in which type of i

34 / 100

पुनः पुनः स्नेहपानम् निरुहा: सानुवासना: निम्न गुल्म की चिकित्सा है
"Punah punah snehapānam niruhā sānuvāsanah" is the treatment of which gulma

35 / 100

कफज गुल्म में सर्वप्रथम कराना चाहिए। चरक
First line of treatment of Kaphaja gulma

36 / 100

गुल्म में विरेचनार्थ कौन से घृत का प्रयोग निर्दिष्ट है
Which ghrita is advised in gulma for virechana

37 / 100

महारुजम् दाहपरीतम् किस गुल्म का लक्षण है
"Mahārujam dāhaparītam" is the symptom of which gulma

38 / 100

व्यामिश्रदोषे व्यामिश्र एष एव क्रियाक्रम है
"Vyāmishradoshe vyāmishra esha eva kriyākrama" is related to

39 / 100

यः स्थानसंस्थानरुजां विकल्पं किस गुल्म का रूप है
"Yah sthānasamsthāna rujām vikalpam" rupa of which gulma

40 / 100

सञ्चित: क्रमशो: गुल्म महावास्तुपरिग्रह:' ये किसके लक्षण बताये गए हैं
"Samchitah kramashoh gulma mahāvāstuparigraha" these are the symptoms of

41 / 100

एतत् .....कफगुल्महरं परम्
Etata........kaphagulmaharam param

42 / 100

शूलं च महाज्जीर्यति किसका लक्षण है ?
"Shūlam cha mahājjīryati" is the symptom of ?

43 / 100

चरक ने मिश्रक स्नेह का वर्णन किस अध्याय में किया है
In which chapter charaka described mishraka sneha

44 / 100

अश्मवद्धनोन्नतम शीघ्रविदाहि दारुणम् है ?
"Ashmavadonnatama shīghravidāhi dārunam" is

45 / 100

भोजन की पाकावस्था में तीव्र शूल का होना किस गुल्म का लक्षण है
Severe pain in pākāvasthā of food is symptom of which gulma

46 / 100

रक्त गुल्म में देना चाहिए
What should be administered in rakta gulma

47 / 100

चरकानुसार कफज गुल्म में अग्निदाह हेतु प्रयुक्त होता है
What is advised in kaphaja gulma for agnidāha according to Charaka

48 / 100

पलाश क्षार का प्रयोग किस गुल्म में हितकर होता है
Palāsha kshāra is beneficial in which type of gulma

49 / 100

लघुपञ्चमूल क्वाथ में शिलाजीत मिलाकर पान करने से किस गुल्म से छुटकारा मिलता है
Laghupanchmūla kvātha mixed with shilājīta is used in treatment of which gulma

50 / 100

आदावन्ते च मध्ये च मारूतं परिरक्षता किस रोग के सन्दर्भ में है ?
"Ādāvante cha madhye cha mārūtam parirakshatā" is said in context to which disease ?

51 / 100

त्रायामाणाद्य घृत विशेष रूप से किस गुल्म का नाश करता है
Trāyamāna ghrita is advised in which gulma

52 / 100

मिश्रकस्नेह का प्रयोग किस गुल्म की चिकित्सा में किया जाता है ?
"Mishraka Sneha" is used in treatment of which gulma

53 / 100

मन,शरीर,अग्नि के बल को नष्ट करने वाला गुल्म है
Gulma that impairs mana, sharira, agni bala is

54 / 100

गुल्म को समूल नष्ट करने का उत्तम उपाय है
Best treatment for gulma that cures it from root

55 / 100

स्नेह: स्वेदो भेदो लँघनमुल्लेखनं किस गुल्म का चिकित्सा सूत्र है
"Snehah svedo bhedo lamghanamullekhanama" is chikitsā sūtra of

56 / 100

तैल पंचक में प्रयुक्त तैल है
Oil used in taila panchaka is

57 / 100

दन्ती हरीतकी में दन्ती का प्रयोज्य प्रमाण क्या है
Prayojya pramāna of danti haritakī is

58 / 100

बहिस्तुंगे समुन्नते, श्यावे सरक्तपर्यन्ते किसका लक्षण है
"Bahistumge samunnate, shyāve saraktaparyante" is the symptom of

59 / 100

दन्ती हरीतकी में प्रयुक्त चित्रकमूल का प्रमाण कितना है
Pramāna of chitraka mūla in dantī haritaki is

60 / 100

क्षीर षटपलघृत में पंचकोल के अतिरिक्त छठा द्रव्य है
What is the 6th content apart from panchkola in kshira shatapala ghrita

61 / 100

संस्पर्शे वस्तिसंनिभे किस गुल्म का लक्षण है
"Samsparshe vastisamnibhe" is the symptom of which gulma

62 / 100

रोहिण्यादि घृत का प्रयोग किया जाता है
Rohinyādi ghrita is used in

63 / 100

छिन्न्मूला विदाह्यन्ते______ न चास्ति रूक् 'रक्‍तमोक्षण' सिद्धान्‍त है:
"Chinnamūlā vidāhyante...........na chāsti ruka" siddhānta of raktamokshana is for

64 / 100

शूलं च महज्जीर्यति किसका लक्षण है ?
"Shūlam cha mahajjīryati" is the symptom of

65 / 100

मन:शरीराग्निबलापहारिणं किस गुल्म का लक्षण है ?
"Manah SharirĀgniBalĀphārinam" symptom of which gulma

66 / 100

दाह,शूल,निद्रानाश किस गुल्म का लक्षण है
Dāha, shūla, nidrā nāsha are symptoms of which gulma

67 / 100

पंचात्मकस्य प्रभवम्" किसके सन्दर्भ में कहा गया है ?
"Panchatmakasya pradhavam" is said in relation to ?

68 / 100

चरक अनुसार हपुषाद्य घृत का रोगाधिकार
Rogādhikāra of hapushā ghrita

69 / 100

कौन सा कर्म करने से गुल्म समूल नष्ट हो जाता है
"Samūla nashta" this is in context of which karma in gulma

70 / 100

बस्तौ च नाभ्यां हृदि पार्श्वयोर्वा' यह सूत्र किससे संबंधित है
"Bastau cha nābhyām hridi pārshavayorvā" this sūtra is related to

71 / 100

निम्न सन्दर्भ किस व्याधि के सन्दर्भ में है "समप्रकोपो दोषाणां सर्वेषामग्निसंश्रितौ।"
"SamaPrakopo Doshānām sarveshāmagnisamshitau" is said in the context of which disease

72 / 100

निम्न में से गुल्म का अधिष्ठान नहीं है -
Following is NOT a site of Gulma -

73 / 100

पक्वाशय में आश्रित गुल्म में प्रशस्त होता है। चरक
Gulma āshrita in pakvāshayā is treated with

74 / 100

स्निग्धस्विन्न शरीराद्यै दद्यात् स्नेहविरेचनम् - किस गुल्म की चिकित्सा है ?
"Snigdhasvinna sharīrādyai dadyāt snehavirechanam" is the treatment of which gulma ?

75 / 100

निम्न में से कौनसा तैल पंचक का घटक द्रव्य नहीं है ?
Which of the following is not a content of taila pamchaka

76 / 100

चरक ने किस/किन गुल्म/गुल्मो में शल्यकर्म का निर्देश किया है ?
Charaka has asked for Shastra Karma in which gulma

77 / 100

जीर्णेSभ्यधिकम् प्रकोपम् भुक्ते" लक्षण है -
"Jirneabhyadhikam prakopam bhukte" is the symptom of -

78 / 100

पक्वगुल्म की चिकित्सा है
Treatment of pakvagulma

79 / 100

श्यावे सरक्त पर्यन्ते किस गुल्म का लक्षण है ?
"Shyāve sarakta paryante" is the symptom of which gulma ?

80 / 100

दन्तीहरीतकी निर्माण में चित्रकमूल की मात्रा कितनी प्रयोग करनी चाहिए
Quantity of chitakamūla in dantī haritaki should be

81 / 100

शिशिर ज्वर किस गुल्म का रूप है
Shishira jvara is rupa of which gulma

82 / 100

रक्त गुल्म में देना चाहिए
What should be administered in rakta gulma

83 / 100

चरक संहिता मतानुसार, दन्ती हरीतकी उपयोगी है -
As per Charaka Samhita, Danti Haritaki is useful in -

84 / 100

स्पर्शोपलभ्य: परिपिण्डितत्वाद .... है?
Sparshoplabhya paripinditvāda.......... is

85 / 100

जो गुल्म कृतमूल,महावस्तु,कठिन हो उसमे क्या चिकित्सा करनी चाहिए
Gulma with kritamūla, mahāvastu and kāthinya is treated by

86 / 100

सभी दोषो की शान्ति प्रकोप का होना .....के ऊपर आश्रित है
Shānti prakopa of al dosha depends upon

87 / 100

योनिशूलम् शिरशूलमर्शान्सि विष्मज्वरम किस घृत की फलश्रुति है
"Yonishūlam shirashulamarshānsi vishmajvaram" pahalashruti of which ghrita

88 / 100

आदावंते च मध्ये च मारुतं परिरक्षता refers to which vyaadhi
Ādāvante cha madhye cha mārutam parirakshitā is in the context of which disease

89 / 100

गुरुः कठिनसंस्थानों गूढ़मांसान्तराश्रय गुल्म की किस अवस्था का लक्षण है ?
"Guruh kathinasamsthāno Gūdhamāmsāntarāshya" is the symptom of which stage of gulma

90 / 100

रक्त गुल्म' की चिकित्सा करने का उपयुक्त समय है
What is the correct time of treatment of "rakta gulma"?

91 / 100

रक्तगुल्म के लक्षण हैं
Symptom of raktagulma?

92 / 100

आश्वासन चिकित्सा का वर्णन आया है
Āshvāsana chikitsā has been mentioned in the context of

93 / 100

निम्न में से गुल्म का अधिष्ठान नही है
Which of the following is not adhishthāna of gulma

94 / 100

रक्तज गुल्म की चिकित्सा में निर्दिष्ट पलल शब्द का क्या अर्थ है
What does the term palala mean mentioned in the treatment of raktaja gulma

95 / 100

क्षीर बस्ति का प्रयोग विशेष रूप से किया जाता है
Kshira basti is specially used in

96 / 100

गूढ़मांसान्तराश्रय: गुल्म की कौन सी अवस्था है
"Gūdhamāmsāntarāshyah " this is which avastha of gulma

97 / 100

आमाभिघातो किस गुल्म का निदान है
"Āmābhighāto" is nidāna of which

98 / 100

सूची 1 को सूची 2 के साथ सम्मिलित कीजिये - सूची 1 - 1) त्रायमाणाद्य घृत 2) सिद्धार्थक घृत 3) एलादि गुटिका 4) गण्डीराद्यरिष्ट सूची 2 - A) क्षतक्षीण B) गुल्म शोथ D) उन्माद
Match List 1 with List 2 - List 1 - 1) Trāyamānādya ghruta 2) Siddhārthaka Ghruta 3) Elādi Gutikā 4) Gandīrādyarishta - List 2) - A) Kshatakshīna B) Gulma Shotha D) Unmāda

99 / 100

पक्व गुल्म में निर्दिष्ट शस्त्रकर्म है -
Shastra karma done in Pakva Gulma is

100 / 100

शीघ्रविदाहि दारुणम् .........गुल्म का लक्षण है
"Shīghravidāhi dārunam" symptom of............gulma

Your score is

The average score is 66%

0%

Exit

Please click the stars to rate the quiz

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *