Skip to content
Home » Charak Sutra 12 Vatkalakaliya Adhayay

Charak Sutra 12 Vatkalakaliya Adhayay

0%
0 votes, 0 avg
59

Charak Sutra 12 Vatkalakaliya Adhayay

1 / 57

शौर्य का अभाव् निम्न विकृत दोष का लक्षण है Abhāva of shaurya is the symptom of which of the following vikrita dosha?

2 / 57

संधानकरः शरीरस्य' किसके संदर्भ मे कहा गया है “Samdhānakarah sharirasya” this has been said in the context of

3 / 57

वातकलाकलीय अध्याय में कफ के कर्मो का वर्णन किस आचार्य ने किया है In vātakalākaliya adhyāya which ācharya mentioned the karma of kapha?

4 / 57

भेल अनुसार पाचक पित्त की स्थूल शरीर में क्या मात्रा है? According to Bhela , what is the quantity of pāchaka pitta in sthūla sharīra ?

5 / 57

ज्ञान अज्ञान की उत्पति में कारण दोष क्या है What is the causative dosha in the occurrence of gnāna agnāna ?

6 / 57

प्रवर्तनं स्त्रोतसां निम्न में से किस वायु का लक्षण है ? "Pravartanam Strotasām" is the symptoms of which Vāyu

7 / 57

वात प्रकोप के कारण क्या है ? - इस प्रशन का उत्तर किस आचार्य द्वारा दिया गया है ? What is the reason for Vāta prakopa? Which Āchārya has given the answer of this question

8 / 57

असंघात वात के प्रकोप तथा प्रशमन की प्रक्रिया क्या है ? - इस प्रश्न का उत्तर किस आचार्य द्वारा दिया गया ? What is the procedure for prakopa and prashamana of Asamghāta Vāta? Which Āchārya has given the answer to this question

9 / 57

कार्शय में कौनसा दोष प्राधान्य है - In "KARSHYA" which DOSA predominance -

10 / 57

चरक सूत्र 12 में वात का कौनसा गुण वर्णित नहीं है Which of the following guna is not mentioned in charaka sutra 12?

11 / 57

धरणी धारणं किसके सन्दर्भ मे कहा गया है ? "Dharanī Dhāranam" is in the context of

12 / 57

शरीर वायु के प्राकृत कर्म किस आचार्य द्वारा बताए गए है ? Prākruta karma of Sharīrastha Vāyu istold by which Āchārya

13 / 57

वातकलाकलीय संभाषा प्रथम प्रश्न का उत्तर किसने किया था ? Who asked the first question in vātakalākaliya sambhāshā?

14 / 57

मृत्यु , यम , सर्वग - किसके पर्याय है ? Mrutyu , yama , sarvaga - are the synonyms of ?

15 / 57

चरक सूत्र 1 मे कहे गए वात के कौन से गुण सूत्र 12 में नही कहे गए ? Which of the following Guna of Vāta which is described in Charaka sūtra 1 is not described in sūtra 12

16 / 57

चरक सूत्र 12 मे सबसे अधिक प्रश्नों के उत्तर किस आचार्य द्वारा दिये गए है ? Which Āchārya has answered the most questions in Charaka sūtra 12

17 / 57

वायुस्तन्त्रयन्त्रधरः -मे तंत्र से क्या अभिप्राय है ? In "vāyustantrayantradharah" , what is the significance of tantra ?

18 / 57

कर्ता गर्भाकृतीनाम् - किसके सन्दर्भ मे आया है ? "Kartā Garbhākrutinām" is in the context of

19 / 57

दारुण गुण का सन्दर्भ है -
Dāruna guna is related to -

20 / 57

चरक सहिंता मे द्वितीय सम्भाषा किस अध्याय में हुई है ? In Charaka Samhitā, second sambhāshā is held in chapter

21 / 57

चरक सूत्र 12 मे किस प्रश्न का उत्तर आचार्य ने प्रत्यक्ष , अनुमान और आप्तोपदेश से सिद्ध कर दिया है ? In Charaka sūtra 12, which question is answered by the Āchārya by the use of Pratyaksha, Anumāna and Āptopdesha

22 / 57

चरक सूत्र अध्याय 12 में "कला" शब्द का अर्थ क्या है The meaning of word kalā in charaka sutra adhyāya 12 is?

23 / 57

प्राकृत शरीरस्थ वायु का कर्म नहीं है ? Which of the following is not the karma of Prākruta Sharīrastha Vāyu

24 / 57

हर्ष में दोष प्राधान्य है - In "HARSA" which DOSA predominate -

25 / 57

कौन सा दोष ज्ञान अज्ञान की उत्पत्ति में कारण है Which dosha is responsible for origin of “jnāna and ajnāna” ?

26 / 57

निम्न मे से कौन से वायु के पर्याय है ? Which of the following are the synonyms of Vāyu

27 / 57

उद्भेदनं चौद्भिदानाम् - किसके सन्दर्भ मे कहा गया है ? "Udbhedanam Chaudbhidānām" is in the context of

28 / 57

कफ के गुणों का वर्णन किसने किया है Who described the guna of kapha?

29 / 57

चरकानुसार ज्ञान अज्ञान में उत्तरदायी दोष कौनसा है ? According to charaka, the dosha responsible for “jnāna ajnāna” is

30 / 57

नियन्ता प्रणेता च मनस:' किसके लिए कहा गया है “Niyantā pranetā ch manasah “ has been said for?

31 / 57

चतुर्युगान्तकराणां मेघसूर्यानिलानां विसर्ग - यह किसके संदर्भ में कहा गया है ? "Chaturyugāntakarānām Meghasūryānilānām Visarga" is in the reference of

32 / 57

चरक सूत्र स्थान में कफ के गुणों का वर्णन किस आचार्य ने किया है In charaka sutra sthāna which achārya described the guna of khapha?

33 / 57

सृष्टिश्च मेघानां निम्न में से किस वायु का लक्षण है ? "Srastischa Meghānām" is the symptoms of which Vāyu

34 / 57

वात का दारुण गुण किसने बताया है Who mentioned the “dāruna” guna of vāyu?

35 / 57

आचार्य मरीच के अनुसार, शरीर का मूल है - Base of Shārīra as per Āchārya Marīcha

36 / 57

उत्साह कर्म है ? “Utsāha” is the karma of

37 / 57

आयुषोSनुवृत्तिप्रत्ययभूतो' किसका कर्म है ? "Āyushoanuvruttipratyayabhūto" is the function of

38 / 57

समानगुणाभ्यासो हि धातूनां वृद्धिकारणमिति - इस श्लोक का रेफेरेंस बताये ? "Samānagunābhyāso hi Dhātunām Vruddhikāranāmiti" the reference of this Shloka is

39 / 57

वातकलाकलीय सम्भाषा मे वात के कर्मो का वर्णन किसने किया है Who described the karma of vāta in vātakalākaliya sambhāsha?

40 / 57

वातकलाक़लीय अध्याय में वात के प्रशमन का उपाय किसने बताया है Who has given the remedy of Vāta prashamana in vātakalākaliya adhyāya?

41 / 57

वातकलाकलीयम अध्याय में "अकालीय" शब्द से क्या अभिप्राय है? In Vātakalākalīya chapter, meaning of Kalīya is

42 / 57

वायुस्तंत्रयंत्रधर: किसका लक्षण है “Vāyustamtrayamtradharah “ is the characteristic of

43 / 57

ज्ञानमज्ञानं बुद्धि किसका कर्म है “JnānamaAjānama buddhi “ is the karma of?

44 / 57

काप्य ने किसको शरीर का मूल रक्षक माना है ? What according to kāpya is main protector of body

45 / 57

क्षेप्ता बहिर्मलानां किस के संदर्भ में कहा गया है ? "Ksheptā Bahirmalānām" is said in the context of

46 / 57

ऋतुओ का विभाजन किस का प्राकृत कर्म है ? Division of Ritus is the Prākruta karma of

47 / 57

वायुस्तन्त्रयन्त्रधरः - मे यन्त्र से क्या अभिप्राय है ? "Vāyustantrayantradharah" in this yantra means

48 / 57

विभु किसका कर्म है ?
“Vibhu” is the karma of

49 / 57

वात प्रशमन के कारण क्या है ? - इस प्रश्न का उत्तर किस आचार्य द्वारा दिया गया ? What are the causes of vāta prashamana?Which Āchārya has given the answer to this question

50 / 57

अग्निरेव शरीरे पित्तान्तर्गत:' किसने कहा है “Agnireva sharire pittantargatah” has been said by

51 / 57

सोना , चांदी आदि धातुओं को विभक्त करना और उनके मान , संस्थान को स्पष्ट करना - किस का कर्म है ? To distinguish between the metals like gold silver etc and to clear their value and organisations is the karma of

52 / 57

मन मे भय , शोक ,मोह ,दीनता, अतिप्रलाप आदि उपद्रव किसके द्वारा उत्पन्न होते है ? Bhaya, Shoka, Moha, Dīntā, Atipralāpa etc Upadrava in Mana is due to

53 / 57

वायोर्विद ने किसको शरीर का मूल रक्षक माना है ? Mūla rakshaka of sharīra according to Vāyorvida

54 / 57

समुद्र को उत्पीड़ित करना और भूकम्प करना - इनके कारण क्या है ? What is the cause of tsunami and earth quake

55 / 57

मरीचि ने किसको शरीर का मूल रक्षक माना है ? According to Marīchi,what is the mūla rakshaka of sharīra

56 / 57

चरकानुसार प्राकृत पित्त का कर्म नही है According to charaka, what is not the karma of prākrita pitta?

57 / 57

आकाश का शब्द गुण किस कारक के द्वारा व्यक्त होता है Shabd guna of ākāsh is expressed by

Your score is

The average score is 68%

0%

Exit

Please click the stars to rate the quiz

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *