Skip to content
Home » Cikitsitapravibhāgavijñānīy Adhyāyaḥ

Cikitsitapravibhāgavijñānīy Adhyāyaḥ

0%
0 votes, 0 avg
27

8. Cikitsitapravibhāgavijñānīy Adhyāyaḥ

1 / 62

पर्वणिका है
Parvanikā is

2 / 62

आचार्य सुश्रुत के अनुसार अंजननामिका क्या है ?
What is Anjana nāmikā as per Acharya Shushrut ?

3 / 62

पंचविध अर्म् होते हैं
Panchvidha arma are

4 / 62

सुश्रुत के अनुसार वात विपर्यय की चिकित्सा है
Treatment of Vāta Viparyaya according to Sushruta is

5 / 62

अशस्त्रकृत रोग नही है -
Not a ashastrakruta netraroga is -

6 / 62

निम्न में से लेख्य नही है -
Of the following, not a lekhya is -

7 / 62

निम्न में से असाध्य नेत्ररोग नही है
Which one is not Asādhya Netra Roga

8 / 62

असाध्य कफज नेत्ररोग है -
Asādhya kaphaja netraroga is -

9 / 62

छेद्य नेत्ररोगों की संख्या है
Number of Chedhya Netraroga

10 / 62

व्याधियों का कौनसा एक वर्ग अन्य वर्गों से चिकित्सा की दृष्टी भिन्न है -
Which group of diseases is different with another from treatment perspective ?

11 / 62

लेख्य रोग है -
Lekhya roga is -

12 / 62

परिम्लायी काच है
Parimlāyī Kācha is

13 / 62

कफविदग्ध दृष्टी है -
Kaphavidagdha drushti is -

14 / 62

कफज उपनाह है
Kaphaja Upanāha is

15 / 62

बिसवर्त्म है
Bisa Vartma is

16 / 62

याप्य व असाध्य नेत्ररोगों की संख्या मानी गयी है क्रमशः -
Number of yāpya and asādhya netrarogas respectively is -

17 / 62

पक्ष्मकोप् की साध्य असाध्यता है
Sādhyāsādhyātā of Pakshmakopa is

18 / 62

सुश्रुत ने लेख्य नेत्ररोगो की संख्या कितनी मानी है ?
Number of Lekhya Netraroga according to Sushruta

19 / 62

अर्शोवर्त्म है -
Arshovartma is -

20 / 62

वर्जयितव्य नेत्र रोग कितने है ?
How many varjayitavya netraroga are there ?

21 / 62

त्रिदोषज असाध्य नेत्ररोग है -
Tridoshaja asādhya netraroga is -

22 / 62

कर्दम वर्त्म है -
Kardama vartma is -

23 / 62

आगन्तुज नेत्र रोगों को माना गया है -
Āgantuja netrorogas are considered as -

24 / 62

याप्य त्रिदोषज नेत्ररोग है -
Yāpya tridoshaja netraroga is -

25 / 62

अशस्त्रकृत नेत्ररोग है -
Ashastrakruta netraroga is -

26 / 62

निम्न में से छेद्य नेत्र रोग नही है
Which of the following is not Chedhya Netra Roga

27 / 62

हुतभुग्ध्वजदर्शी किस व्याधि का अन्य नाम भी है
Hutabhugdhvajadarshī is other name.for wwhich Vyādhi

28 / 62

द्विविध नेत्रपाक की चिकित्सा है -
Treatment of dwividha netrapāka is -

29 / 62

शुष्काक्षिपाक है -
Shushkāksipāka is -

30 / 62

किस रोग का अन्य नाम "हुतभुग्ध्वजदर्शी " भी है -
Other name of which roga is "hutabhugdhvajadarshi" ?

31 / 62

. भेद्य नेत्ररोगों की संख्या है
Number of bhedya netrarogas are -

32 / 62

निम्न में से अशस्त्रकृत नेत्ररोग नही हैं ?
Which of the following is not Ashastrakrita Netraroga ?

33 / 62

असाध्य पित्तज नेत्ररोग है -
Asādhya pittaja netraroga is -

34 / 62

कफज उपनाह है
Kaphaja Upanāha is

35 / 62

निम्न में से असाध्य नैत्ररोग नही है
Which of the following is not Asādhya Netra roga

36 / 62

पोथकी की चिकित्सा है
Treatment of Pothakī is

37 / 62

निम्न में से लेख्य नेत्र रोग नही है -
Of the following, not a lekhya roga is -

38 / 62

वर्त्मशर्करा रोग है -
Vartmasharkarā roga is -

39 / 62

निमिष होता है
Nimisha is

40 / 62

सुश्रुत संहिता के अनुसार बिस वर्त्म की क्या चिकित्सा है?
According to Sushrut Samhita, what is the treatment of bisa vartma ?

41 / 62

पोथकी है
Pothakī is

42 / 62

निम्नलिखित में से कौनसी व्याधि औषध साध्य नहीं है ?
Which of the following disease is NOT Aushadha Sādhya ?

43 / 62

अंजननामिका है
Anjananāmikā is -

44 / 62

पित्तविदग्धदृष्टी है ?
Pitta Vidagdha Drishtī is

45 / 62

सुश्रुत उत्तर तंत्र के अष्टम अध्याय में वर्णित नेत्र रोग संख्या है -
Number of netra rogas mentioned in Eighth chapter are -
ed

46 / 62

सुश्रुत के अनुसार व्यध्य नेत्ररोग कितने होते हैं
Vyadhya Netra roga according to Sushruta are

47 / 62

व्यधन साध्य नेत्र रोग है
Vyadhyan sādhya netraroga is -

48 / 62

निम्न में से लेख्य रोग है
Which of the following is Lekhya roga

49 / 62

कितने नेत्र रोगो में वेध्य क्रिया कि आवश्यकता होती है ?
Vedhya procedure is necessary in how many Netraroga ?

50 / 62

असाध्य वातज नेत्ररोग है -
Asādhya vātaja netraroga is -

51 / 62

हथाधिमंथ की साध्य असाध्यता है -
Sādhyasādhyatā of hatādhimantha is -

52 / 62

. व्यध्य नेत्ररोगों की संख्या है
Number of Vyadhya Netra roga

53 / 62

अर्जुन नेत्र रोग की चिकित्सा कौन सी है ?
Which is the treatment of "Arjuna" netra roga ?

54 / 62

निम्न मे वेध्य है
Which of the following is Vedhya

55 / 62

लगण की चिकित्सा है -
Treatment of lagana is -

56 / 62

चतुर्विध अधिमंथो एवं चतुर्विध अभिष्यंदो की चिकित्सार्थ निर्दिष्ट उपक्रम है क्रमशः -
Upakrama indicated for the treatment of chaturvidha adhimatha and chaturvidha abhishyanda respectively is -

57 / 62

अशस्त्रकृत नेत्ररोगों की संख्या
Number of Ashastrakrita Netra Roga

58 / 62

सिराजाल एवं पर्वणी की चिकित्सार्थ निर्दिष्ट कर्म है -
Karma indicated for the treatment of Sirājāla and Parvanī is -

59 / 62

अशस्त्रकृत व शस्त्रकृत नेत्र रोगों की संख्या मानी गयी है क्रमशः -
Number of ashastrakruta and shastrakruta netrarogas respectively is -

60 / 62

उपनाह है
Upanāha is

61 / 62

अक्षिपाकात्यय की साध्यासाध्यता -
Sādhyasādhyatā of aksipākātyaya is -

62 / 62

असाध्य कफज नेत्ररोग है -
Asādhya kaphaja netraroga is -

Your score is

The average score is 84%

0%

Exit

Please click the stars to rate the quiz

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *