Skip to content
Home » Gulmapratiṣēdh Adhyāyaḥ

Gulmapratiṣēdh Adhyāyaḥ

0%
0 votes, 0 avg
5

42. Gulmapratiṣēdh Adhyāyaḥ

1 / 67

चित्रकादि घृत का प्रयोग किस गुल्म में करना चाहिए ? ( सुश्रुत )
Use of chitrakādi ghruta should be done in which gulma ? ( Sushruta )

2 / 67

लताकरञ्ज के पत्तो को तैल में भून कर खाना किस शूल में हितकारक होता है ?
Nātākaranja leaves roasted in taila is beneficial in which shūla ?

3 / 67

रसमारुत सम्भव किस शूल के सन्दर्भ में कहा गया है ?
"Rasa māruta sambhava" is said in relation to which shūla ?

4 / 67

श्लेष्मगुल्म से पीड़ित रूग्ण में किस गण से सिद्ध किये हुए घृत का प्रयोग करना चाहिए ? ( सुश्रुत )
A patient suffering from shleshmagulma should be given siddha ghruta of which gana ? ( Sushrut )

5 / 67

पायसै: कृशरापिण्डे: स्निग्धैर्वा पिशितैर्हित: किस शूल की चिकित्सा में प्रयुक्त होता है ?
"Pāyasaih krusharāpindeh snigdhairvā pishitairhitah" is used in the treatment of which shūla ?

6 / 67

कुक्षि शूल का मूल कारण माने गये है -
Main cause mentioned in kuksi shūla is -

7 / 67

पिपासा वर्द्धते तीव्रा भ्रमो मूर्च्छा च जायतेकिसका लक्षण हैं -
"Pipāsā vardhhate tivrā bhramo mūrchho cha jāyate" is the symptom of -

8 / 67

क्षिप्रं दोषहरं कार्य्यं भिषजा साधु जानता किस शूल का चिकित्सा सिद्धांत है ?
"Ksipram doshaharam kāryyn bhishajā sādhu jānatā" is the chikitsā siddhānta of which shūla ?

9 / 67

रस मारुत संभव किसके लिए कहा गया है ?
"Rasa māruta sambhava" is said for which of the following ?

10 / 67

किस प्रकार के शूल में लघु एवं संतर्पणकारी भोजन हितकारक होता है ?
In which type of shūla, laghu and santarpanakārī bhojana is beneficial ?

11 / 67

दाधिक घृत का रोगाधिकार है -
Rogādhikāra of dādhika ghruta is -

12 / 67

तैलं जाङ्गलमज्जान एवं गुल्मे .........।
"Tailam jāngalamajjān evam gulme ....... "

13 / 67

पलाशक्षार सिद्ध सर्पि का आभ्यांतर प्रयोग विशेष रूप से किस गुल्म में हितकर है ?
Internal use of palāshaksāra siddha sarpi is specifically beneficial in which gulma ?

14 / 67

हृद्बस्योरन्तरे ग्रन्थिः सञ्चारी यदि वाSचल: गुल्म के सन्दर्भ में उपर्युक्त कथन किस आचार्य का है ?
"Hruddhasyorantare Granthih Sanchārī Yadi Vā Achalah" above Gulma in context to Gulma is of which Ācharyā ?

15 / 67

पिप्पल्यादि गण के क्वाथ से सिद्ध घृत की उत्तरबस्ति किस गुल्म में देने का निर्देश है ?
Uttarabasti of siddha ghruta from kwātha of pipplyādi gana is indicated in which gulma ?

16 / 67

षडङ्गघृत का प्रयोग किस गुल्म में किया जाता है ? ( सुश्रुत )
Shadangaghruta is used in which gulma ? ( Sushruta )

17 / 67

पार्श्वशूल में दोष प्राधान्य माना गया है -
Dosha predominance in pārshvashūla is -

18 / 67

सर्व प्रकार के गुल्म में निर्दिष्ट योग है -
Yoga indicated for all types of gulma is -

19 / 67

स्निग्धं युक्तं स्नेहविरेचनै: किस गुल्म की चिकित्सा के सन्दर्भ में कहा गया है ? ( सुश्रुत )
"Snigdham yuktam snehavirechanaih" is said in relation to treatment of which gulma ?

20 / 67

गुल्म की किस अवस्था में जलौका द्वारा सिरामोक्षण करना चाहिए ?
In which condition of gulma ratkamoksana with jalaukā is done ?

21 / 67

वमनं लंघनं स्वेदः पाचनं फलवर्त्तयः। क्षाराश्चूर्णानि गुटिका: शस्यन्ते शूलनाशन: | | किस शूल का चिकित्सा उपक्रम है ?
"Vamanam langhanam swedah pāchanam phalavartayah , ksārāshchūrnāni gutikāh shasyante shūlanāshanah" is the chikitsā upakrama of which shūla ?

22 / 67

सुश्रुतानुसार आर्तव गुल्म का कारण माना गया है -
According to Sushruta, reason for Ārtava gulma is

23 / 67

गुपितानिलमूलत्वाद् गूढ़मूलोदयादपि किस व्याधि की निरुक्ति है ?
"Gupitānilamūlatvād gūdhamūlodayādapi" is the etymology of which disease ?
ed

24 / 67

काकोल्यादि गण के क्वाथ से सिद्ध घृत का प्रयोग किस गुल्म में करना चाहिए ?
Use of siddha ghruta from kwātha of kākolyādi gana is done in which gulma ?

25 / 67

रसमारुत संभव किस शूल के सन्दर्भ मे कहा गया है ?
"Rasa māruta sambhava" is said in relation to which shūla ?

26 / 67

किस शूल की चिकित्सार्थ ताम्र या रजत पात्र में शीतोदक भरकर शूल के स्थान पर कुछ काल तक रखने का निर्देश मिलता है ?
Cold water filled copper and silver vessel is advised to keep in the area of Shūla for sometime for treatment of which type of Shūla ?

27 / 67

उच्छवसित्यामशकता शूलेनाहन्यते मुहुः किस शूल का लक्षण है ?
"Ucchavasityāmashakatā shūlonāhanyate muhu" is the symptom of which shūla ?

28 / 67

हृच्छूल में प्रधान दोष व अप्रधान दोष होते है क्रमशः -
Pradhāna and apradhāna dosha in hrutchūla respectively is -

29 / 67

पार्श्वशूल के सहायक लक्षण है -
Supporting symptom of pārshvashūla is -

30 / 67

बस्तिशूल में निम्न में से किसका निरोध होता है ?
Obstruction of which of the following is there in "bastishūla" ?

31 / 67

विण्मूत्रानिलसङ्गश्च सौहित्यासहता तथा किस व्याधि के पूर्वरूप है ?
"Vinmūtrānilasangashcha sauhityāsahatā tathā" is the purvaroop of which disease ?

32 / 67

कुलत्थयूषो युक्ताम्लो लावकीयूषसंस्कृत: किस शूल की चिकित्सा के सन्दर्भ में कहा गया है ?
"Kulatthayūsho yuktāmlo lāvakīyūshasanskrutah" is said in relation to treatment of which shūla ?

33 / 67

परमदारुण किस शूल के सन्दर्भ में कहा गया है ?
"Paramadāruna" is said in relation with which shūla ?

34 / 67

कटुवक्त्रता निम्न में से किस गुल्म का लक्षण है ?
"Katuvakratā" is the symptom of which of the following gulma ?

35 / 67

हृत्कुक्षिशूल किस गुल्म का विशिष्ट लक्षण है ?
"Hrutkuksishūla" is the specific symptom of which gulma ?

36 / 67

शीताभिकामो भवति शीतेनैव प्रशाम्यति किस शूल का लक्षण है ?
"Shītākāmo bhavati shītenaiva prashāmyati" is the symptom of which gulma ?

37 / 67

अगर गुल्म रोगी में मल व अपान वायु का निरोध हो गया है तो उसकी चिकित्सार्थ क्या देने का निर्देश मिलता है ?
If the Gulma rogī has the obstruction of Mala and Apāna vāta, then what is used for the treatment

38 / 67

सुश्रुत के अनुसार गुल्म रोगी के लिए अपथ्य है
According to Sushrut, unhealthy diet for the patient of gulma is -

39 / 67

परमदारुणम किस शूल को कहा गया है ? (सुश्रुत)
"Paramadarunam" is said to which shoola ? ( Sushrut )

40 / 67

कौनसा शूल विशेष रूप से भूखे पेट में होता है ?
Which shūla mainly occurs in empty stomach ?

41 / 67

सुश्रुत अनुसार सन्निपातज शूल की साध्यासाध्यता है -
According to Sushruta , sādhyasādhyatā of sannipātaja shūla is -

42 / 67

शूलेनोत्पीड्यमानस्य हृल्लास उपजायते किस शूल का लक्षण है ?
"Shūlenotpīdyamānasya hrullāsa upajāyate" is the symptom of which shūla ?

43 / 67

उदररोगाधिकार घृत का प्रयोग किस व्याधि में करना चाहिए ? ( सुश्रुत )
Use of udararogādhikāra ghruta should be done in which disease ? ( Sushruta )

44 / 67

पृथ्वीकादिचूर्ण वर्ति का प्रयोग किस शूल में किया जाना चाहिए ?
Use of pruthvīkādichūrna should be done in which shūla ?

45 / 67

नैवाशने न शयने तिष्ठन् वा लभते सुखम् | किसका लक्षण है ?
"Naivāshane na shayane tishtan vā labhate sukham" is the symptom of ?

46 / 67

हृद्ब्स्त्योरन्तरे ग्रंथिः संचारी यदि वाSचलः गुल्म के सन्दर्भ में उपयुक्त कथन किस आचार्य का है ?
"Hrudbstyorantare granthih sanchārī yadi vā achalah" is the statement related to gulma by which Āchārya ?

47 / 67

हृच्छूल में श्वास की किस प्रक्रिया में विशेष रूप से अवरोध होता है ?
In Hṛicḥshūla which process of svāsa is mainly hindered?

48 / 67

पत्रलवण व कल्याण लवण का प्रयोग किस व्याधि में किया जाता है ?
Use of patralavana and kalyāna lavana is done in which disease ?

49 / 67

नागरादि क्वाथ का प्रयोग किस शूल में किया जाना चाहिए ?
Use of nāgarādi kwātha should be done in which shūla ?

50 / 67

अन्तः तरति यस्माच्च न पाकमुपयात्यत् किस व्याधि के सन्दर्भ में कहा गया है ?
"Antah Tarati Yasmāccha Na Pākamupayātyat" is said in context to which disease ?

51 / 67

विण्मूत्र व "स्थिरांगता" किस दोषज गुल्म उपद्रव का विशिष्ट लक्षण है ?
"Vinmūtra" and "sthirāngatā" is the specific symptom of doshaj gulma upadrava ?

52 / 67

सुश्रुत ने किस गुल्म को क्षतज गुल्म की संज्ञा भी दी है ?
Sushrut has named which gulma as ksataja gulma ?

53 / 67

गुल्म के उपदव रूपी शूल का वर्णन सर्वप्रथम किस आचार्य ने किया है ?
Upadrava rupī shūla of gulma is first mentioned by which Āchārya ?

54 / 67

विडङ्गादि चूर्ण का प्रयोग किस दोषज शूल में निर्दिष्ट है ?
Use of vidangādi chūrna is indicated in which doshaja shūla ?

55 / 67

सुश्रुतानुसार गुल्म के प्रकार व गुल्म के आश्रय होते है क्रमशः -
According to Sushrut, types of gulma and āshraya of gulma respectively is -

56 / 67

सुश्रुत के अनुसार गुल्म के सन्दर्भ में सत्य कथन है -
According to Sushruta what is correct regarding guḷma?

57 / 67

सुश्रुत अनुसार हिंग्वादि चूर्ण का प्रयोग किस गुल्म में करना हितकारक है ?
According to Sushrut , use of hingvādi chūrna is beneficial in which gulma ?

58 / 67

मुखकण्ठशोषो निम्न में से किस गुल्म का लक्षण है ?
"Mukhakanthashosho" is the symptom of which of the following gulma ?

59 / 67

रूक्ष: स्वेद: प्रयोज्य: स्यादन्याश्चोष्णा: क्रिया हिताः किस शूल की चिकित्सा के सन्दर्भ में कहा गया है ?
"Rūkshah swedah prayojyah syādanyāshchoshnāh kriyā hitāh" is said in relation with treatment of which shūla ?

60 / 67

हृदुत्क्लेशो विलम्बिका किस शूल का लक्षण है ?
"Hrudutklesho vilambikā" is the symptom of which shūla ?

61 / 67

पलाशक्षारतोयेन सिद्धं सर्पि: प्रयोजयेत् किस गुल्म की चिकित्सा के सन्दर्भ में कहा गया है ?
"Palāshaksāratoyena siddham sarpih prayojayet" is said in relation to treatment of which gulma ?

62 / 67

नैवासने न शयने तिष्ठन् वा लभते सुखं किस शूल का लक्षण है ?
"Naivāsane na shayane tishtan vā labhate sukham" is the symptom of which shūla ?

63 / 67

सुश्रुतानुसार निम्न में से गुल्म का आश्रय नहीं है -
According to Sushrut, of the following, not an āshraya of gulma is -

64 / 67

बीजपूरकसारं वा पयसा सह साधितम् किस शूल की चिकित्सा के सन्दर्भ में कहा गया है ?
"Bījapūrakasāram vā payasā saha sādhitam" is said in relation with treatment of which shūla ?

65 / 67

सुश्रुत ने किस शूल को प्रधान रूप से वातजन्य कहा है ?
Sushrut has mainly said vātajanya for which shūla ?

66 / 67

पिप्पल्यादि भस्म का प्रयोग किस दोषज शूल में करना हितकारक है ?
Use of pipplyādi bhasma is beneficial in which doshaja shūla ?

67 / 67

सुश्रुत के अनुसार शूल कितने प्रकार का होता है ?
According to Sushrut, shūla is the how many types ?

Your score is

The average score is 41%

0%

Exit

Please click the stars to rate the quiz

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *