Skip to content
Home » Kriyākalp Adhyāyaḥ

Kriyākalp Adhyāyaḥ

0%
0 votes, 0 avg
20

18. Kriyākalp Adhyāyaḥ

1 / 65

पुटपाक प्रयोगपरान्त यंत्रणा काल कितना माना गया है ?
Yantranā kāla after Putapāka prayoga

2 / 65

मधुर रस वाले अञ्जन को किस पात्र में रखना चाहिए ?
Anjana containing madhura rasa should be kept in which container ?

3 / 65

तिक्त रस वाले अञ्जन को किस पात्र में रखना चाहिए ?
Tikta rasa Anjana should be kept in the vessels made up of

4 / 65

निम्न में से कौनसा अञ्जन सार्वाधिक हीन वीर्य होता है ?
Which of the following Anjana has the most least potency ?

5 / 65

कफज नेत्र रोगो में तर्पण अवधि है -
Duration of Tarpana in Kaphaja Netra disorders is -

6 / 65

लेखन चूर्णाञ्जन की मात्रा कितनी बताई गयी है ?
How much quantity has been said of lekhana chūrnānanjana ?

7 / 65

वातिक विकारो में कितने समय तक तर्पण किया जाना चाहिए ?
Tarpana should be done upto how much time in Vātika disorders ?

8 / 65

दोषो के शांत हो जाने की स्थिती में नेत्र में कौनसे क्रियाकल्प का प्रयोग किया जाता है ? ( सुश्रुत )
Which kriyā Kalpa should be used in netra in the condition of dosha getting calm ?

9 / 65

आचार्य सुश्रुत के मतानुसार 'अज्जन शलाका ' की लम्बाई होती है
Length of Anjana Shalākā according to Āchārya Sushruta

10 / 65

सुश्रुत के अनुसार प्रबल दोषों में तर्पण कितने समय तक करना चाहिए
Tarpana should be done for how many days in prabala dosha according to Sushruta

11 / 65

कृष्णगत रोगों मे तर्पण प्रयोग काल ....... वाक् मात्रा तक हैं |
For krishnagat rog, tarpan prayog kaal is ....... vak matra.

12 / 65

प्रसादन अंजनवर्ती का किस मात्रा में प्रयोग होता है ?
Prasādana Anjanavarti is used in how much quantity ?

13 / 65

सन्धिगत रोगों में तर्पण कितनी मात्रा उच्चारण करने तक का विधान है । सुश्रुत
Mātrā uchchārana for tarpana in Sandhigata roga according to Sushruta

14 / 65

रोपण सेक कितने मात्रा तक धारण करना चाहिए
Ropana seka should be holded upto how much mātrā ?

15 / 65

सुश्रुत के अनुसार पित्तज व्याधियों के लिए शिरोबस्ति धारण मात्रा कितनी बताई गई है?
According to Sushruta , shirobasti should be holded for how much quantity in pittaja disorders ?

16 / 65

किस अवस्था में अञ्जन का निषेध माना गया है ?
Anjana is contraindicated in which condition ?

17 / 65

अंजन किस अवस्था निषिद्ध है ?
Anjana is contraindicated in which condition ?

18 / 65

सुश्रुत अनुसार प्रसादक चूर्णांजन की मात्रा कितनी बताई गयी है ?
Quantity of prasādaka chūrnāmjana according to Sushruta

19 / 65

वातिक रोगों मे कौनसे रस प्रधान लेखन अंजन का प्रयोग करना चाहिए
Which Rasa Pradhāna lekana Anjana should be used in Vātika roga

20 / 65

सुश्रुत के अनुसार प्रथम क्रियाकल्प कौन सा है ?
According to Sushrut,which of the following is pratham kriyakalp ?

21 / 65

रोपण पुटपाक का धारण काल ........ हैं | ( सुश्रुत )
Dharan kaal of ropan putapak is ..........

22 / 65

वातज रोगो में पुटपाक का समय कितना बताया गया है ?
Putpāta should be done for how many days in Vātaja Roga

23 / 65

दृष्टिगत रोगों में तर्पण के लिए कितने मात्रा उच्चारण तक का विधान है
Uchchārana Mātrā for tarpana in drishtigata roga

24 / 65

वातदोष में नेत्र तर्पण की काल मर्यादा है
Kāla maryādā of tarpana in Vāta dosha

25 / 65

सन्धिगत रोगों में तर्पण काल ........ हैं |
In Sandhigat rog, tarpan kaal is upto ......

26 / 65

अंजन शलाका के सन्दर्भ मे कौनसा वक्तव्य सही है
Which of the following sentence is true in reference to Anjana shalākā

27 / 65

वैदूर्य से बने अंजन पात्र का रस
Rasa of anjana pātra made from vaidūrya is -

28 / 65

सुश्रुत अनुसार, कफज नेत्ररोगों में तर्पण प्रयोग की काल मर्यादा है
Kāla maryādā of tarpana prayoga in Kaphaja netraroga according to Sushruta is -

29 / 65

कफज व्याधि में तर्पण कितनी देर तक करना चाहिए ?
Duration of tarpan in kaphaj vyadhi should be how much long ?

30 / 65

रोपण पुटपाक में निम्न में से नहीं कराना चाहिए ?
Which of the following should not be done in ropan putapak ?

31 / 65

पित्तज नेत्ररोगों में पुटपाक ..... में प्रयोग करना चाहिए |
In pittaj netra rog, putapak should be used for ........

32 / 65

रोपण चुर्णांजन की मात्रा कितनी बताई गयी है ?
Mātrā of Ropana Chūrnānjana

33 / 65

लेखन, स्नेहन एवं रोपण आश्च्योतन हेतु औषध रस की मात्रा क्रमशः होती है ?
Aushadha rasa mātrā for Lekhana, Snehana, Ropana Āshchyotana respectively is

34 / 65

सुश्रुत के अनुसार रोपणार्थ प्रयुक्त आश्चयोतन में औषध रस की मात्रा होनी चाहिए
Aushadha rasa mātrā in Āshchyotana for Ropana according to Sushruta

35 / 65

सुश्रुत अनुसार अंजन शलाका की लम्बाई कितने अंगुल कही गयी है ?
According to Sushrut, length of anjan shalaka is said how many angul ?

36 / 65

सेकस्य ......... काल : पुटपाकात परो मत : | ( सुश्रुत )
"Sekasya ......... kaal putpakat paro mat" ( Sushrut )

37 / 65

स्वस्थ व्यक्ति हेतु तर्पण धारण काल कितना माना गया है ?
Tarpana dhārana kāla for svastha vyakti

38 / 65

निम्न में से कौनसा अञ्जन सर्वाधिक हीनवीर्य होता है ?
Hīnavīrya anjana is

39 / 65

कृष्णगत रोगो में तर्पण किया जाता है -
Tarpana in Krushnagata roga is done upto -

40 / 65

आचार्य सुश्रुत मतानुसार, अंजन शलाका की लम्बाई है -
Length is Anjana shalākā is according to Āchārya Sushruta is -

41 / 65

लेखन, स्नेहन एवं रोपण आश्च्योतन हेतु औषध रस की मात्रा क्रमशः होती है ?
Aushadha rasa mātrā for Lekhana, Snehana, Ropana Āshchyotana respectively is

42 / 65

कषाय अंजन का पात्र
Kashāya anjana pātra is made of

43 / 65

लवण रस वाले अञ्जन को किस पात्र में रखना चाहिए ?
Lavana rasa Anjana should should be kept in which container ?

44 / 65

सेक में पुटपाक से कितना गुना समय निर्दिष्ट है ?
How many times is the time specified from the putapāka in Seka ?

45 / 65

स्नेहन सेक कितने काल तक करना चाहिए ?
Snehana sek used to done until how much time period ?

46 / 65

प्रसादांजन की मात्रा है -
Mātrā of Prasādānjana is -

47 / 65

लेखन के हिनयोग में प्रयुक्त चिकित्सा है -
Treatment used in hīna yoga of lekhana is -

48 / 65

लेखन परिषेक हेतु धारण काल कितना बताया गया है ?
How much is the Dharana Kala for Lekhana Parisheka ?

49 / 65

नेत्रों में आश्चोतन करना चाहिए -
Āshchyotana in Netra should be done -

50 / 65

वात दोष में नेत्र तर्पण की मर्यादा कितने समय की होती है ?
Netra tarpana maryādā in Vāta dosha

51 / 65

अम्ल रस वाले अञ्जन को किस पात्र में रखना चाहिए ?
Anjana of Amla rasa should be kept in which container ?

52 / 65

सुश्रुत अनुसार लेखनाञ्जन वर्ति का प्रमाण कितना बताया गया है ?
According to Sushruta , how much is the quantity of lekhanānjana varti ?

53 / 65

सुश्रुत अनुसार रोपण अञ्जन वर्ति का प्रमाण कितना बताया गया है ?
According to Sushruta , how much is the pramāna of ropana anjana varti ?

54 / 65

अञ्जन के अधोलिखित भेदो को इनकी बढ़ती हुई कार्मुकता में लिखिए -
Write the following types of Anjana in their increasing order of functions -

55 / 65

सुश्रुत ने कितने क्रियाकल्पों का उल्लेख किया है ?
Sushrut has mentioned how many kriyakalpas ?

56 / 65

कलाय परिमण्डल लक्षण है -
"Kalāya Parimandala" is characteristic of -

57 / 65

निम्न में से रोपण अञ्जन का गुण है -
Which of the following is guna of Ropana Anjana

58 / 65

सुश्रुतानुसार, स्वस्थ व्यक्ति में तर्पण .......... मात्राकाल के लिए निर्दिष्ट है।
According to Sushruta, in healthy individual , "Tarpana" is indicated for ......... mātrākāla .

59 / 65

शुक्लगत रोगों में तर्पण काल ......... वाक् मात्रा तक है |
Tarpan kaal in shuklagat rog is upto ........ vak matra .

60 / 65

कटु रस वाले अञ्जन को किस पात्र में रखना चाहिए ?
Anjana containing katu rasa should be kept in which container ?

61 / 65

आचार्य सुश्रुत के अनुसार रोपण कर्म के लिये आश्चयोतन की मात्रा क्या है ?
Quantity of āshchyotana for ropana karma is - ( Sushruta )

62 / 65

अञ्जन के अधोलिखित भेदो को इनकी बढ़ती हुई कार्मुकता में बताईये ?
Tell the following types of anjana in the increasing order of their kārmukatā ?

63 / 65

सुश्रुत अनुसार पुटपाक के भेद है ?
According to Sushrut, types of putapak are ?

64 / 65

लेखनीय चूर्णांजन का प्रयोग दिन में कितने बार करने का निर्देश मिलता है ?
Use of Lekhanīya chūrnānanjana is indicated how many times in a day ?

65 / 65

तर्पण एवं पुटपाक के मिथ्या आचरण से उत्पन्न व्याधि में क्या चिकित्सा करनी चाहिए ?
what should be done in the disease obtained due to the wrong implement of Tarpana and Putapāka

Your score is

The average score is 74%

0%

Exit

Please click the stars to rate the quiz

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *