Skip to content
Home » Krutyaakrutay Vidhi Adhayay

Krutyaakrutay Vidhi Adhayay

0%
0 votes, 0 avg
53

23. Krutyaakrutay Vidhi Adhayay

1 / 29

कुष्ठ,विष,शोष,मधुमेह से पीड़ित रोगियों के व्रण होते हैं
Vrana of patients suffering from Kushtha, visha, shoshanastu, madhumeha are

2 / 29

अश्वापान सदृश व्रण होता है -
Ashvāpāna like Vrana is

3 / 29

मस्तुलुंग: अर्धविलीनघृताकारोमस्तकमज्जा: सुक्ति का सही अर्थ है
"Mastulumgah ardha vilīna ghritākāromastaka majjā" what does it mean

4 / 29

सुश्रुत के अनुसाय सफेनपूयरक्तानिलवाहि अन्त: शल्य युक्त.....स्थित व्रण दुश्चिकित्सीय होता है।
According to Sushruta "SaPhenapūyaRaktĀnilaVāhi Antah shalya yukta ......... sthita vrana is dushachikitsīya.

5 / 29

कृत्याकृत्य विधि अध्याय है
Krityākritya vidhi Adhyāya is

6 / 29

निम्न में से व्रण उदीरण के हेतु है -
Which of the following are causes of Vrana Udīrana

7 / 29

किस स्थान गत व्रण दुश्चिकित्सीय होते हैं
Which sthāna gata vrana is dushachikitsīya

8 / 29

जठर प्रदेश स्थित व्रण की साध्यासाध्यत्व होती है -
Sādhyāsādhyātva of Jathara sthita vrana

9 / 29

सुखपूर्वक रोपणीय व्रण किस स्थान के व्रण हैं
Vrana that heal easily are which sthāna gata vrana

10 / 29

मधुमेह के व्रण होते हैं
Vrana of madhumeha are

11 / 29

निम्न में से याप्य व्रण है
Which of the following is Yāpya Vrana

12 / 29

शर्करामेह एवं सिकतामेह से उत्पन्न व्रण होता है -
Vrana originating due to Sharkarā and Siktāmeha are

13 / 29

रूढ़ वर्त्मानमग्रन्थिमशूनमरुजं व्रणम् किसका लक्षण है
"Rudha vartamānamagranthimashūnamarujam vranam" is the symptom of

14 / 29

दुष्ट व्रण का लक्षण है -
Symptom of Dushta Vrana is -

15 / 29

कपोतवर्ण प्रतिमा यस्यान्त: क्लेदवर्जिता: कौनसे व्रण का लक्षण है ?
"Kapotavarna Pratimā Yasyāntah Kledavarjitāh" is the symptom of which Vrana ?

16 / 29

निम्न में से सुचिकित्सीय व्रण हैं
Which of the following is Suchikitsīya vrana

17 / 29

त्वकसवर्ण समतलं' किस व्रण का लक्षण है ?
TvakaSavarna Samatalam" is symptom of which Vrana

18 / 29

कपोत के वर्ण के समान व्रण का होना किसका लक्षण है
Vrana like pegion colour is characterised of

19 / 29

श्याव ओष्ठ किस व्रण का लक्षण है
Shyāva oshtha is symptom of which Vrana

20 / 29

गोश्रृंग सादृश्य व्रण साध्यासाध्यता अनुसार होता है -
Goshrimga like Vrana according to Sādhyāsādhyātā of Vrana is

21 / 29

निम्न में से किनके व्रण सुचिकित्स्य होते है ?
Whose Vrana among the following are Suchikitsīya

22 / 29

निम्न में से सुखरोपणीय व्रण है
Which of the following is SukhaRopanīya vrana

23 / 29

निम्न में से याप्य व्रण हैं
Which of the following is Yāpya Vrana

24 / 29

सुश्रुत मतानुसार शुद्धव्रण का लक्षण क्या है
Characteristics of Shuddha vrana according to Sushruta is

25 / 29

स्थिराश्चिपिटिकावन्तो किस व्रण का लक्षण है ?
"Sthirāshchipitikāvanto" is the symptom of which Vrana

26 / 29

फलकोश पर होने वाला व्रण होता है
Vrana that occurs in PhalaKosha is

27 / 29

सुखरोपनीय व्रण का स्थान है -
Site of Sukharopanīya vrana is -

28 / 29

अस्थिक्षत व् उरक्षत से उतपन्न हुए व्रण होते हैं
Vrana originating due to asthikahata and urakshata are

29 / 29

निम्न मे से किस स्थान पर स्थित व्रण सुख साध्य है ? ( सुश्रुत )
Vrana at which place is sukhasādhya ? ( Sushruta )

Your score is

The average score is 77%

0%

Exit

Please click the stars to rate the quiz

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *