Skip to content
Home » Sushrut Chikitsha pramēhapiḍakācikitsitam MCQs

Sushrut Chikitsha pramēhapiḍakācikitsitam MCQs

0%
0 votes, 0 avg
25

12. pramēhapiḍakācikitsitam

1 / 24

लोहारिष्ट ......नाशक है
Loharishta destroys ..........

2 / 24

प्रमेह में परिसेचनार्थ कौनसा कषाय प्रयुक्त होता है ?
For parisechnarth purpose which kashay is used prameha ?

3 / 24

प्रमेह निवृत्ति में मूत्र का रस ....... होता है।
What is the rasa of mūtra in prameha nivritti

4 / 24

पिड़का के संदर्भ में सही विकल्प चुने - "मृद्वयोSल्परुजः क्षिप्रपाकभेदिन्यश्च .........."
Select the correct option in relation to pidka - "mrudvayoalparujah Kshiprapakabhedinyashch .........."

5 / 24

सुश्रुत अनुसार नवायस लौह का रोगाधिकार है -
According to Sushrut, rogadhikar of navayas loha is -

6 / 24

सुश्रुत अनुसार प्रमेह पीडिका मे उत्सादनार्थ किस कषाय का प्रयोग किया जाता है ?
According to Sushrut, in prameha pidka which kashay is used for utsadana purpose ?

7 / 24

पक्व पिड़का की चिकित्सा किसके समान करते है
Treatment of pakva pidka should be done similar to ?

8 / 24

सुश्रुतानुसार नवायस लौह का रोगाधिकार है
According to Sushrut, rogadhikar of navayas loha is -

9 / 24

प्रमेह पिडिका की व्यक्तावस्था में चिकित्सा है
Treatment of Prameha Pīdīka in Vyaktāvastha ?

10 / 24

.......... हि मधुमेहिनो भवन्ति |
"........... hi madhumehino bhavanti"

11 / 24

प्रमेहपिड़का में पिपल्यादि कषाय का किस कार्य हेतु प्रयोग किया जाता है ?
In pramehapidka, use of pipplyadi kashay is done for which purpose ?

12 / 24

प्रमेह पिडिका का पक्व होने पर चिकित्सा है
Treatment done after maturation of prameh pidka -

13 / 24

सुश्रुत अनुसार कौनसा लेह सभी प्रकार के मेहो का नाशक है ?
According to Sushrut, which leha destroys all types of meha ?

14 / 24

सुश्रुतानुसार प्रमेह के पूर्वरूप में प्रयोज्य आद्य चिकित्सा है
According to Sushrut, treatment done in purvaroop of prameh is -

15 / 24

सुश्रुतानुसार धान्वन्तर घृत किस व्याधि में देय है ?
According to Sushrut, Dhanvantar ghrut is given in which disease ?

16 / 24

धान्वन्तर घृत का रोगाधिकार क्या है ?
What is the rogadhikar of dhanvantar ghrut ?

17 / 24

प्रमेह की चिकित्सा में नवायस लौह का अनुपान है
In treatment of prameha, anupan of navayas loha is -

18 / 24

प्रमेह निवृति के लक्षण हैं
Relieving symptom of prameh is -

19 / 24

प्रमेह पिडिका के पूर्वरुप में चिकित्सा है
Which treatment is done in purvaroop of prameh pidka ?
ed

20 / 24

प्रमेह पिड़का की चिकित्सार्थ किस कर्म का निषेध किया गया है ?
In treatment of pramehapidka, which karma is contraindicated ?

21 / 24

प्रमेह पिडिका के सम्बन्ध में निम्न में से असत्य कथन है -
Incorrect statement in relation to pramehapidka is -

22 / 24

अपक्व प्रमेह पीडिका मे करते है
In Apakwa Prameha Pidikā we do

23 / 24

प्रमेहपिड़का विशेष रूप से शरीर के किस स्थान में उत्पन्न होती है ?
Pramehapidka mainly occurs in which place of the body ?

24 / 24

मूत्रमपिच्छिलमनाविलं विषदं तिक्तकटुक किस व्याधि के निवृत्ति लक्षण है ?
"Mutrapichhilamanaavilam vishadam tiktakatuka" is relieving symptom of which disease ?

Your score is

The average score is 80%

0%

Exit

Please click the stars to rate the quiz

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *