Skip to content
Home » Sushrut Sharir Dhamanīvyākaraṇaśārīram MCQs

Sushrut Sharir Dhamanīvyākaraṇaśārīram MCQs

0%
0 votes, 0 avg
28

9. Dhamanīvyākaraṇaśārīram

1 / 25

आक्रोशनविनमनमोहनभ्रमणवेपनानि मरणं उपरोक्त लक्षण किस स्रोतोवेध के लक्षण है
"ĀkroshanaVinamanaMohanaBhramanaVepanāni Maranam" is symptom of which srotovedha

2 / 25

स्त्रोत्स का वर्णन सुश्रुत शारीर स्थान के किस अध्याय में किया गया है ?
Srotas are described in which chapter of Sushruta shareer sthana

3 / 25

शोष रोग में कौनसे स्त्रोतस की दुष्टी होती है ?
Which strotasa vitiates in Shosharoga ?

4 / 25

रिक्त स्थान भरे - " शुक्रवहे द्वे तयोर्मूलं...... "
Fill in the blank - "Shukravahe dve, Tayormulam........ "

5 / 25

स्तब्धमेढ्रता किस स्त्रोतस के वेधन का लक्षण है।। सुश्रुत
"StabdhaMedhratā" is the symptom of which Srotasa vedhana according to Sushruta

6 / 25

अन्नवह स्त्रोतोविद्ध के परिणाम है
Anna vaha srotoviddha leads to

7 / 25

रसस्थानम् चाभिपूर्यन्ति' का कार्य कौन सी धमनी करती है ?
"RasaSthānam Chābhipūryanti" is kārya of which Dhamanī

8 / 25

सुश्रुत अनुसार मेदोवह स्रोतोमूल है
According to Sushrut,origin of Medovah Strotas is -

9 / 25

अंधता किस स्त्रोतोविद्ध का लक्षण है
Amdhatā is symptom of which Srotoviddha

10 / 25

आन्ध्य किस स्त्रोस् के विद्ध होने पर होता है -
"Āndhya" is due to injury if which srotasa

11 / 25

आर्तववह स्रोतस विद्धता का लक्षण है -
Symptom of Ārtavavaha Strotasa Viddhatā is -

12 / 25

उर्ध्वगामी धमनियों की संख्या कितनी है। सुश्रुत
Number of Urdhavagāmi Dhamanī

13 / 25

सुश्रुतानुसार 'दाह' किस विद्ध स्त्रोतस का लक्षण है ?
"Dāha" is the symptom of which srotasa viddha

14 / 25

सुश्रुत अनुसार दाह किस स्त्रोतस का विद्ध लक्षण है ?
According to Sushruta, Dāha is the viddha lakshana of which strotasa ?

15 / 25

आर्तववह स्रोतस के विद्ध होने के लक्षण है
Symptoms of Ārtava vaha srotoviddha are

16 / 25

रिक्त स्थान भरे - सुश्रुत अनुसार," मेदोवह द्वे, तयोर्मूलं........"
Fill in the blank - According to Sushruta, "Medovahe dwe Tayormulam...... "

17 / 25

पिपासा किस स्त्रोतोवेध का लक्षण है
Pipāsā is symptom of which Srotovedha

18 / 25

सुश्रुत द्वारा वर्णित धमनी की संख्या है -
Number of Dhamanī mentioned by Sushruta are -

19 / 25

शोष कौन से स्त्रोतोवेध का लक्षण है
Shosha is symptom of which Srotovedha

20 / 25

पिपासा सद्दोमरण किस स्रोतोदुष्टि का लक्षण है ?
Pipasa Sadhyomaran is the sign(Lakshan) of which Srotodushti?

21 / 25

सुश्रुतानुसार तिर्यग्गामी धमनियों की संख्या कितनी है
How many are tiryaggāmī dhamanī according to Sushruta

22 / 25

पञ्चत्वमायान्ति विनाशकाले किसके सन्दर्भ में कहा गया है ?
"Panchatvamāyānti Vināshakāle" is said in context to -

23 / 25

किस स्रोतस के विद्ध होने से मृत्यु होती है ?
Viddha of which strotasa leads to Death ?

24 / 25

दो स्टेटमेन्ट नीचे दिए हुए है - स्टेटमेन्ट (1) सुश्रुत अनुसार, शुक्रवह स्त्रोतस के मूलस्थान स्तन और वृषण हैं । स्टेटमेन्ट (2) चरक के अनुसार, मेदोवह स्त्रोतस के मूलस्थान वृक्क और वपावहन है । दोनों स्टेटमेन्ट को ध्यान में रख कर उचित विकल्प का चयन करें ।
Given below are two statements:- (1) Acoording to Sushruta, Moolsthanas of Shukravaha strotas are Stana & Vrishna (2)According to Charaka, Moolsthana of Medovaha Strotasa are Vrikka and Vapavahan . Choose the most appropriate answer from the following:-

25 / 25

यथास्वभावत: खानि मृणालेषु बिसेषु च' किसके सन्दर्भ में कहा गया है
"Yathā svabhāvatah khāni mrināleshu biseshu cha" has been said in context of

Your score is

The average score is 75%

0%

Exit

Please click the stars to rate the quiz

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *